अच्छा हुआ जो तुमने,
हमको तोड़ कर रख दिया।
घमंड था मुझे बहुत,
की तुम सिर्फ मेरे हो।।